Thursday, 15 October 2015

भक्तों फूल बरसाओ, मेरी मैया जी आई है मेरी कैला जी आई है - Bhakton Phool Barsao, Meri Maiya Ji Aai Hai, Meri Kaila Ji Aai Hai

भक्तों फूल बरसाओ, मेरी मैया जी आई है
मेरी कैला जी आई है
कोयल मीठे बोल गाओ, भवानी कैला आई है
भवानी मैया जी आई है

लगी थी आस सदियों से, हुए हैं आज वो दर्शन
निभाए आज वायदे को, पधारी है माता पावन
मेरे सब कष्ट हरने को माँ नंगे पैर आई है
माँ नंगे पैर आई है
भक्तों फूल....

करूँ कैसे तेरी पूजा, न मन फूला समाता है
कहाँ जाउँ किधर देखु, समझ में कुछ न आता है
मुझे रंग अपने में रंगकर बढ़ाने मान आई है
बढ़ाने मान आई है
भक्तों फूल....

ना चाहिए मुझको धन दौलत, मैं तेरी भक्ति चाहता हूँ
मेरे सिर पर हो तेरा हाथ, ये वरदान चाहता हूँ
अधम मुझ नींच पापी का, करने उद्धार आई है
करने उद्धार आई है
भक्तों फूल....

No comments:

Post a Comment