Tuesday, 29 September 2015

खुश होंगे हनुमान राम राम किये जा...

सुबह शाम आठो याम यही नाम लिए जा 
खुश होगे हनुमान राम राम किये जा......

लिखा था राम नाम जो पत्थर भी तैर गए 
किये राम से जो बैर जीते जी वो मर गये 

राम नाम की धुन पे नाचे हो कर के मतवाला 
बजरंगी सा इस दुनिया में कोई ना देखा देव निराला 

जो भी हनुमत के दर पे आता उसका संकट टाला 
मुख में राम तन में राम जपे राम नाम की माला 

बस नाम का रस पान ऐ इंसान किये जा 
खुश होंगे हनुमान राम राम किये जा...

No comments:

Post a Comment