Friday, 29 March 2013

जप ले मन एक नाम साईराम साईराम

जप ले मन एक नाम साईराम साईराम
जप ले मन एक नाम साईराम साईराम -2
शत शत तुझको प्रणाम साईराम साईराम
साईराम साईराम नित्य कहो साईराम-२
मंत्र एक सत्यकाम साईराम साईराम
जप ले मन एक नाम साईराम साईराम
मन की अभिलाष यही वाणी तेरी सुने -2
आँखों की प्यास यही दर्शन तेरा मिले -2
सांसो में तेरे नाम का गुंजन रहे
यही अर्ज सूबह शाम साईराम साईराम
जप ले मन एक नाम साईराम साईराम
तुझ से जो भी मिला वोह तेरा ही भक्त बना -2
तेरी लीलाओं से शिर्डी भी तीर्थ बना -2
जिसके कण कण में बसा तेरा ही मधुर नाम
वही नाम शान्ति धाम साईराम साईराम
जप ले मन एक नाम साईराम साईराम
नाम की लीला अपार नाम की महिमा अन्नंत -2
निस दिन जो नाम जपे दुखो का होवे अंत -२
सबने ही स्वीकारा हों फ़कीर चाहे संत
सभी लेत वही नाम साईराम साईराम
जप ले मन एक नाम साईराम साईराम
शत शत तुझको प्रणाम साईराम साईराम
साईराम साईराम नित्य कहो साईराम

No comments:

Post a Comment