Monday, 25 March 2013

हनुमत तुम्ही हो पालनहार

|| हनुमत तुम्ही हो पालनहार ||

नहीं मिला है और किसी को सियाराम से ये अधिकार |
केवल तुम ही सुन सकते हो दीन-हीन की चीख पुकार ||
इस कलयुग में सिर्फ चलेगा हनुमान तेरा ही सिक्का |
हनुमत तेरे आगे नहीं चलेगा कोई भी इक्का-दुक्का ||
तुम्ही कर सकते हो स्वामी दीन दुखियों का बेडा पार |
क्योकि तुम्हे दिया है सियाराम ने इन कामो का अधिकार ||
कलयुग में उद्धार सभी का होगा पवनपुत्र तेरे ही हाथ |
सियाराम का आशीर्वाद फलेगा जब होगा तुम्हारा साथ ||
इस कलयुग में तुम्ही रहोगे प्रभु के कामो के आधार |
क्योकि तुम्ही ही कर सकते हो प्रभु के भक्तो का उद्धार ||
भली तरह से देखकर ही ‘श्याम’ तेरी शरण में आया |
क्योकि तेरे द्वार से बढ़कर उसे कोई द्वार नहीं भाया ||
बड़ा भरोसा हैं मुझको प्रभु नहीं करोगे तुम इनकार |
क्योकि तुम्ही हो प्रभु हम भक्तो के सबसे बड़े पालनहार |

No comments:

Post a Comment