Tuesday, 23 August 2011

भक्ति जहाँ श्री राम की होती, शक्ति वहाँ हनुमान की होती.

भक्ति जहाँ श्री राम की होती,
शक्ति वहाँ हनुमान की होती.

No comments:

Post a Comment