Tuesday, 14 June 2011

बजरंगी बलकारी, राम थारो मन भावे |

हे बजरंगी बलकारी |

पूरी करो जी मनोकामना, शरण थारी जो आवे |
जय हो, शिव अवतारी, राम थारो मन भावे |
बजरंगी बलकारी, राम थारो मन भावे |

संकट कटे, हरे सब पीड़ा, जो सुमरे हनुमत बलबीरा ||

No comments:

Post a Comment